जब भगत सिंह की जयंती मनाने के लिए कॉलेज स्टूडेंट्स को सस्पैंड होना पड़ा। - Netfandu

Tuesday, October 16, 2018

जब भगत सिंह की जयंती मनाने के लिए कॉलेज स्टूडेंट्स को सस्पैंड होना पड़ा।

इस बात  में कोई दो राय नहीं की भारत विवादों  का देश है।  आये दिन नए विवाद यंहा जन्म लेते  है  और भारत के लोगो का अपना फेवरेट टाइमपास बहस करना मिल जाता है.  ऐसा ही एक नया विवाद सामने आया है और इस बार विवाद का विषय भगत सिंह।  जी है भगत सिंह।  अब आप पूछेंगे की भगत सिंह ने ऐसा क्या कर दिया की इस बार अंग्रेजो से ज्यादा टेंशन हम हिन्दुस्तानियो को हो  रही है।  

जी नहीं भगत सिंह ने कुछ नहीं किया है।  हुआ ऐसा की तमिलनाडु के कोयंबटूर गवर्नमेंट आर्ट्स कॉलेज में  एक छात्रा को भगत सिंह जयंती मनाने पर सस्पेंड कर दिया गया है. कॉलेज में इतिहास के फर्स्ट ईयर की छात्रा को इसलिए सस्पेंड किया गया, क्योंकि छात्रा ने 28 सितंबर को भगत सिंह जयंती मनाई थी.
आरोप है कि पोस्ट ग्रेजुएट की स्टूडेंट मालती ने बिना किसी अनुमति के कॉलेज कैंपस में भगत सिंह की जयंती मनाई थी. जब मालती ने प्रिंसिपल से अनुमति मांगी, तो उन्होंने मना कर दिया और विभागीय स्तर पर अनुमति लेने के लिए कहा. उसके बाद एचओडी की छुट्टी होने पर छात्रों ने ट्यूटर से अनुमति मांगी थी.
वहीं ट्यूटर ने भी अनुमति देने से मना कर दिया तब छात्रों ने जश्न मनाना शुरू कर दिया. छात्र को भेजे गए सस्पेंशन लेटर में कहा गया हैं, 'अनुमति नहीं देने के बाद, मालती ने दूसरे विभाग के स्टूडेंट्स से बैठक की और इससे कॉलेज कैंपस में शांति भंग हुई है.'
अब कॉलेज 22 अक्टूबर को इस मामले में पूछताछ करेगी और सस्पेंशन रद्द करने पर फैसला लिया जाएगा. मालती ने इस सस्पेंशन की आलोचना की है और कहा कि यह कैंपस लोकतंत्र के खिलाफ है.